Home > प्रौद्योगिकी > वैज्ञानिकों के द्वारा डायबिटीज़ की नयी जाँच – जानिए।

वैज्ञानिकों के द्वारा डायबिटीज़ की नयी जाँच – जानिए।

by Dennis Ray
0 comment
SENSOR

आजकल डायबिटीज़ की बामारी बहुत आम हो चुकी है। भारत में तो इसके मरीज बहुत ही बड़ी संख्या में हैं। इस बीमारी का पता लगाने के लिए अपने खून की जांच करानी होती है। लेकिन शायद अब ऐसा करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। दक्षिण कोरिया के वैज्ञानिकों ने यह दावा किया है कि उन्होंने एक ऐसा सेंसर बना लिया है जिसकी मदद से उन्हें सिर्फ पसीने से ही शुगर का पता चल जाएगा

वहां की सोल यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने इस अद्भुत कारनामे को अंजाम दिया है। इन वैज्ञानिकों का मुख्य मकसद था कि लोगों को ब्लड टेस्ट से होने वाली गंभीर परेशानियों से किसी तरह निजात दिलाई जा सके।

sensor

यहां के वैज्ञानिकों के समूह ने शुगर की जांच के लिए तीन तरह के सेंसर का निर्माण किया हैं। ये अलग-अलग तरह के सभी सेंसर शरीर में शुगर लेवल का पता लगाने के लिए ही बनाए गए हैं। सामान्यतौर पर शुगर के स्तर का पता लगाने के लिए ही खून की जांच की जाती है। लेकिन इन सेंसर्स से सिर्फ पसीने से ही शरीर के शुगर लेवल का पूरी तरह पता लगाया जा सकता है। इन तीन में से दो सेंसर पसीने में एसिडिटी और ह्यूमिडिटी की ठीक से जांच भी कर सकेंगे।

इस सेंसर को शरीर के उन हिस्सों पर लगाया जाता है जहां पर छिद्र वाली परतें होती हैं जो पसीने को ठीक से सोखती हैं। सेंसर जो भी जानकारी प्राप्त करता है वो सारी एक पोर्टेबल कंप्यूटर पर दिखने लगती हैं। इसे बनाने वाले वैज्ञानिकों के मुताबिक इन जानकारियों से कोई भी बता सकता है कि जिसके पसीने की जांच की गई है उसे डायबिटीज़ है भी या नहीं। हालांकि अभी वैज्ञानिकों की चुनौतियां पूर्ण्तः खत्म नहीं हुई हैं क्योंकि खून में जितना शुगर होता है उसके मुकाबले पसीने में बहुत ही कम होती है और ऐसे में शुगर का पता लगाना उतना आसान नहीं

About Us

Lorem ipsum dolor sit amet, consect etur adipiscing elit. Ut elit tellus, luctus nec ullamcorper mattis..

Newsletter